सौंदर्य बनाम प्रेम

सौन्दर्य   सृष्टि   का   मूल   तत्त्व   है।   सृष्टि   के   बाहर   और   भीतर   सौन्दर्य   ही   आनंद   का   सर्वातिशायी   महाभाव   है।   वस्तुतः   यह   सम्पूर्ण   विश्व   उस   विराट   चेतना   की   सौन्दर्यमयी   अभिव्यक्ति   है।   बहती   हुई   नदियों   खिले   हुए   पुष्पों   लहराते   हुए   वनों   हिलोरे   लेता   सागर   बर्फ   से   ढकी   ऊँची – ऊँची   पहाड़   की   चोटियाँ   तारिकाओं   से   आच्छादित   आकाश – ये   सभी   सौन्दर्य   की   विराट   चेतना   को   उजागर   करते   हैं।   सृष्टि   की   मूल   चेतना   आनन्द   है   और   आनंद   की   प्राप्ति   में   सौन्दर्य – तत्त्व   सहायक   सिद्ध   होता   है। परं भक्त परं सौन्दर्य   के   पारखी   महाकवि   सूरदास   जी को सब जानते ही…

Read More

वो चार हार्मोन्स जो तय करते हैं आपके जीवन की खुशियाँ !

एक दिन मैं और मेरा मित्र साथ बैठे जीवन की खुशी की बात कर रहे थे। कुछ देर बात करने के बाद उसने कहा कि वो जीवन मे खुश नहीं हैं। उसकी यह बात सुनकर मैंने भी अपने अंतर्मन से पूछा कि “क्या मैं खुश हूँ?” “नहीं”, मेरी अंतरात्मा ने जवाब दिया। और मैं इसके पीछे के कारण को जानने की कोशिश करने लगा पर ढूंढ नहीं सका। मैंने और कोशिश की, कुछ आर्टिकल्स पढ़े, लाइफ कोच से विचार विमर्श किया पर कुछ भी निष्कर्ष नहीं निकला। और फिर आखिर…

Read More

खुद को खुश रखें

ज्यादातर हमारे दिन एकदम शून्य जैसे जाते हैं.. हमें पता ही नहीं होता कि हमने दिनभर किया क्या! या हम क्या करना चाहते हैं! बस सुबह जैसे मशीन की स्विच ऑन होती है और मशीन अपने काम में लग जाती है.. खाना भी हम समय पर केवल इसलिये खाते हैं क्योंकि वो सिर्फ हमारी दिनचर्या का हिस्सा है.. घड़ी के साथ-साथ हम भी तय किये गये रूटीन में घूमते रहते हैं.. अक्सर हम भूल जाते हैं कि हमारा कुछ अस्तित्व भी है.. हम दिनभर इतने उलझे रहते हैं कि हम…

Read More

Cancer and a child (based on true story).

“It is not always what you wish for but It is the Gods plan which is store for us.” It had been exactly One and a half year now, I was diagnosed for Triple negative Breast cancer and undergone for BCS (breast conservation surgery ). My name is Kashaf, a happily married women blessed with beautiful daughter and it is my real story. After my surgery doctor told me that I need to take 16 Chemotherapy, Yes 16 chemotherapy and 25 Radiations. I know it was more for any normal…

Read More

पहले गृहलक्ष्मी सजा लूं

“इन जबरदस्ती की ऑफिस पार्टियों में जाना मुझे बिल्कुल पसंद नहीं” भुनभुनाते हुये एक झटके में हिमानी ने शेल्फ खोली जो ड्रेस सामने दिखी वही हाथ में ले कर धड़ाम से शेल्फ बंद की| “किट्टू रो रही है जरा तुम उसको सम्हालो तो मैं कपड़े बदल लूं”  “तुम्हें दिख नहीं रहा मैं बिजी हूं” रोहन ने बिना देखे ही जवाब दिया|व दो दिन से सलून के चक्कर काटने के बावजूद रोहन को आईने के सामने खड़े पिछ्ले एक घंटे से फेसियल मसाज करते देख हिमानी अंदर ही अंदर चिढ़ गयी,…

Read More