चूडियां पहनकर तो देखो

माफ करना , क्या कहा आपने ? यही ना कि “हमने भी चूड़ियाँ नहीं पहन रखी है.”  अगर चूड़ियाँ पहने होते तो? कायर और कमजोर होते? नहीं पहनी तो बहुत बहादुर और मजबूत हो? क्या यही मतलब समझ पाये हो इन चूड़ियों का? आखिर जानते क्या हो आप इन चूड़ियों के बारे में? किसने कहा कि चूड़ियाँ कमजोर और औरत या आपकी नजर में कहूं कमजोर औरत की निशानी हैं?  मर्द होने पर इतना घमण्ड कि इन चूड़ियों को कायरता की निशानी मान बैठे, शर्म आती है ना इन चूड़ियों…

Read More